बुजुर्ग महिला के साथ चैन लूट की घटना को अंजाम देने वाले 2 अभियुक्तों को दून पुलिस ने किया गिरफ्तार

22074 views          

देहरादून

कोतवाली ऋषिकेश में दिनांक 29 मार्च 2024 को वादी राकेश सिंह पुत्र भगवान सिंह निवासी बापू ग्राम गली नंबर 1 आईडीपीएल ऋषिकेश के द्वारा एक लिखित तहरीर दिनांक 29 मार्च 2024 को उनकी सास श्रीमती गुड्डी देवी से बापू ग्राम गेट के पास दिन में लगभग 2 बजे विक्रम से उतरते समय दो लड़कों के द्वारा उनके गले की चैन छीन कर भाग जाने के संबंध में दी गई। प्राप्त लिखित तहरीर के आधार पर कोतवाली ऋषिकेश में लूट का अभियोग पंजीकृत कर विवेचना प्रारंभ की गई।

बुजुर्ग महिला के साथ हुई चैन लूट की घटना के दृष्टिगत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा तत्काल घटना के अनावरण तथा अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु प्रभारी निरीक्षक ऋषिकेश को आदेशित किया गया। जिस पर तत्काल कोतवाली ऋषिकेश में घटना के अनावरण हेतु एक टीम का गठन किया गया|

गठित टीम के द्वारा घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण करते हुए, उच्च स्तरीय पतारसी सुरागरसी, सीसीटीवी कैमरे की फुटेज का अवलोकन कर तथा मुखबिर तंत्र की सहायता से घटना से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारियां एकत्रित कर दिनांक 29 मार्च 2024 को मुखबिर की सूचना पर लेबर कॉलोनी तिराहे के पास से चेन स्नेचिंग की घटना से संबंधित 02 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया, जिनके पास से घटना में लूटी गई चेन बरामद की गई।

पूछताछ में दोनों अभियुक्तों के द्वारा बताया गया कि वे दोनों नशे के आदी हैं तथा नशे की पूर्ति के लिए उन्हें पैसों की आवश्यकता थी, इस दौरान उन्होंने विक्रम में दो बुजुर्ग महिलाओ को बैठे हुए देखा, उनमे से एक के गले में सोने की चेन थी। वे दोनों भी ऋषिकेश से विक्रम में उक्त महिला के साथ बैठ गये जैसे ही उनमे से एक बुजुर्ग महिला विक्रम से उतरने लगी, अभियुक्तों द्वारा उसकी चैन खींच ली और मौके से फरार हो गये, अभियुक्त उक्त चैन को बेचने की फिराक में घूम रहे थे, पर इससे पूर्व ही पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

*नाम पता अभियुक्तगण*

1-विवेक शर्मा पुत्र ज्योतिष शर्मा निवासी कृष्णा नगर कॉलोनी आईडीपीएल ऋषिकेश उम्र 22 वर्ष
2-हेमंत शाक्य पुत्र जसबीर शाक्य निवासी कृष्णा नगर कॉलोनी आईडीपीएल ऋषिकेश उम्र 21 वर्ष

*बरामदगी विवरण*
1- घटना में लूटी गई चैन

*पुलिस टीम*
1- उप निरीक्षक ज्योति प्रसाद उनियाल, चौकी प्रभारी आईडीपीएल
2- कांस्टेबल दुष्यंत,
3- कांस्टेबल अनुज,
4- कांस्टेबल सत्यवीर

About Author

           

You may have missed