उत्तराखंड में फिर से कोरोना की लहर..1 ही दिन में मिले 137 पॉजिटिव, 98 हजार के पार आंकड़ा

1526 views          

देशभर में कोरोना की दूसरी लहर एक बार फिर से एक्टिव हो रखी है और लगातार लोगों को अपनी चपेट में ले रही है और कोरोना की यह दूसरी लहर पहली वाली से भी ज्यादा खतरनाक है और माना जा रहा है कि कोरोना के इस नए रूप से और अधिक तबाही होगी। अधिक से अधिक लोग इसकी चपेट में आएंगे और मृत्यु दर भी बढ़ेगा। पंजाब, महाराष्ट्र और हरियाणा समेत देश के अन्य राज्यों के बाद अब उत्तराखंड के ऊपर भी नई लहर का खतरा मंडराने लगा है। कोराना के केस उत्तराखंड में एक बार फिर से बढ़ रहे हैं और माना जा रहा है कि उत्तराखंड में भी दूसरी लहर सक्रिय हो सकती है। बीते रविवार को उत्तराखंड में कोरोना के 137 मामले मिले। यह इस साल का सबसे अधिक आंकड़ा है। इससे पहले 23 जनवरी को उत्तराखंड में 122 मरीज मिले थे। ऐसे में यह आशंका जताई जा रही है कि उत्तराखंड में भी कोरोना की यह दूसरी लहर सक्रिय हो सकती है। अगर सावधानी नहीं बरती गई तो प्रदेश में भी अन्य राज्यों जैसा हाल हो जाएगा।

देहरादून में बीते रविवार को कुल 53 लोग संक्रमित पाए गए हैं। हरिद्वार में 41, उधम सिंह नगर में 15, नैनीताल में 14, अल्मोड़ा, पौड़ी और टिहरी गढ़वाल में दो-दो और बागेश्वर और उत्तरकाशी में एक-एक व्यक्ति संक्रमित पाया गया है। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार सरकारी और निजी लैब से कल 9,976 सैंपलों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है और उसमें से 9,839 मामलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है जबकि 137 पॉजिटिव केस मिले हैं। प्रदेश में अब तक 98,448 लोग संक्रमित पाए गए हैं जिनमें से 94,462 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। और कोरोना के कारण हुए मरीजों की मृत्यु का आंकड़ा 1704 पहुंच चुका है।आपको बता दें कि बीते रविवार को उत्तराखंड में 137 मरीज पॉजिटिव पाए गए हैं जो कि इस वर्ष का सबसे अधिक आंकड़ा है। इससे पहले 23 जनवरी को 122 मरीज पॉजिटिव पाए गए थे और 17 मार्च को 110, 4 फरवरी को 103 मरीज, 4 मार्च को 100 मरीज पॉजिटिव पाए गए। वहीं प्रदेश में टीकाकरण अभियान भी युद्ध स्तर पर चल रहा है। रविवार को 46 केंद्रों पर 2782 व्यक्तियों को टीका लगाया गया। राज्य में अबतक 9260 व्यक्तियों को टीका लग चुका है।

About Author

           

You may have missed