वैभव वालिया ने प्रेम नगर में मातृशक्ति को किया सम्मानित, भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव वालिया ने भाजपा सरकार को बताया विकास विरोधी व जनविरोधी।

323 views          

देहरादून

भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव वैभव वालिया ने आज कैंट विधानसभा क्षेत्र के प्रेमनगर में पहुंचकर मातृशक्ति को सम्मानित किया I प्रेमनगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मोहित ग्रोवर के नेतृत्व में आयोजित किए गए इस समारोह में श्री वैभव वालिया ने कहा कि आज के हालात अच्छे नहीं है, और इन सब के लिए केंद्र व प्रदेश में बैठी भाजपा की गूंगी-बहरी सरकारे पूरी तरह से जिम्मेदार है I उन्होंने कहा कि महिलाओं ने अपने बच्चों को पढ़ा लिखा कर काबिल बनाया, लेकिन आज वे बेरोजगार होकर बैठे हुए हैं I केंद्र सरकार ने युवा शिक्षित बेरोजगारों को ढेर सारे सपने रोजगार देने, महंगाई दूर करने तथा भ्रष्टाचार का खात्मा करने के दिखाए थे, लेकिन छल-कपट वाली केंद्र की भाजपा सरकार ने आज देश भर के युवाओं को बेरोजगारी में धकेल दिया है I यही नहीं, महिलाओं को सम्मान न देकर उनका अपमान करने का काम इस केंद्र सरकार ने जिस तरह से किया है, उसे माफ नहीं किया जा सकता I भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव श्री वैभव वालिया ने मातृशक्ति को सम्मानित करते हुए तथा कंबल वितरित करते हुए यह भी कहा कि कैंट विधानसभा क्षेत्र मैं उनको काम करने व सेवा करने का एक मौका आगामी विधानसभा चुनाव में विधायक निर्वाचित करके दिया जाना चाहिए I वैभव वालिया ने विश्वास दिलाया कि वह निश्चित रूप से क्षेत्रवासियों की कसौटी व विकास कार्य करने की कसौटी पर खरे उतरेंगे I उन्होंने यह भी कहा कि मैं विकास में विश्वास रखता हूं, न कि दिखावे व बड़ी बड़ी घोषणाएं करने में I


इस अवसर पर प्रेम नगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मोहित ग्रोवर, कार्यकारी अध्यक्ष राजेश बाली, युवा कांग्रेस के प्रदेश सचिव अमन सिंह, पूर्व पार्षद श्रीमती रीता ग्रोवर, वरिष्ठ नेता सुभाष नागपाल, मंजू छेत्री, केके शास्त्री, वार्ड 2 के अध्यक्ष सुनील कुमार, वार्ड 3 के अध्यक्ष अन्नू कुमार के अलावा वार्ड 1 के अध्यक्ष राहुल तलवार, प्रेम नगर कांग्रेस कमेटी के सचिव हरपाल सिंह पाली, महामंत्री कुलदीप नरूला, रुचि, मधु, नेहा, ममता, कमलेश, हरजीत कौर, सोनिया, मीणा नौटियाल, बृजलाल, रामनरेश, कुलिस यादव, विक्की, रीमा देवी, रमेश कुमार, शिवानी, सरिता, निशा देवी आदि मुख्य रूप से मौजूद रहे I

About Author