बड़ी खबर: उत्तराखंड बोर्ड के हाईस्कूल के बच्चे बिना परीक्षा होंगे पास, 12वीं की परीक्षा स्थगित

2945 views          

देहरादून: कोरोना महामारी के कारण उत्तराखंड सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए कक्षा 10वीं की बोर्ड परीक्षाओं को निरस्त कर दिया है। साथ ही कक्षा 12वीं की परीक्षाओं को स्थगित किया गया है।

शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने जानकारी देते हुए बताया कि, मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के कुशल नेतृत्व में प्रदेश में कोरोना महामारी के दृष्टिगत परीक्षार्थियों की सुरक्षा और बचाव हेतु उत्तराखण्ड विद्यालयी शिक्षा परिषद की कक्षा 10वीं की बोर्ड परीक्षाओं को निरस्त करने तथा कक्षा 12वीं की परीक्षाओं को स्थगित करने का निर्णय लिया गया है।

साथ ही उन्होंने कहा कि, उक्त सन्दर्भ में प्रदेशवासियों को आश्वस्त करना चाहता हूँ कि मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के कुशल नेतृत्व में आगे भी विद्यार्थियों के स्वास्थ्य एवं उज्ज्वल भविष्य के दृष्टिगत ही निर्णय लिए जाएंगे।

अब 10वीं के बच्चों को पिछले परर्फोरमेंस के आधार पर पास माना जाएगा। जबकि 12वीं के छात्रों की परीक्षा के लिए स्थिति कुछ सामान्य होने के बाद अलग से परीक्षा तिथि तय की जाएगी। 

शिक्षा मंत्री ने अपील करते हुए कहा कि, कोरोना वायरस से सुरक्षा और बचाव हेतु केंद्र और राज्य सरकार के दिशा-निर्देशों का अनुपालन करें। कोरोना वायरस से सभी की सुरक्षा और बचाव हेतु सभी का सहयोग अपेक्षित है।

उत्तराखंड बोर्ड की 10 वीं और 12 वीं की परीक्षा में दो लाख 70 हजार से अधिक परीक्षार्थी पंजीकृत हैं। इसमें 10वीं में 1,48,355 एवं 12वीं में 1,22,184 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं। शिक्षा विभाग की ओर से इनकी परीक्षा के लिए प्रदेश भर में 1347 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

About Author

           

You may have missed