पूर्व मुख्यमंत्री ने गुरुद्वारे में लगाई झाड़ू,मांगी माफी,सिख धर्म और उसकी महान परंपराओं के प्रति हमेशा समर्पित भाव और आदर भाव रखता रहा हूँ–हरीश रावत

636 views          

नानकमता …..

प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष और कार्यकारी अध्यक्षों की तुलना पंच प्यारो से तुलना कर दी थी जिसके बाद हरीश रावत लगातार माफी मांग रहे हैं।उधर हरीश रावत के बयान के बाद दूसरे दलों ने उनके इस बयान को लपक लिया और इसे सियासी मुद्दा बनाने में कोई कसर नही छोड़ी,,,

हालांकि हरीश रावत ने कहा था कि वह उत्तराखंड के किसी न किसी गुरुद्वारे में जाकर माफी मांगेंगे और वहां जाकर सेवा करेंगे जिसके चलते आज पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने नानकमत्ता के श्री गुरुद्वारा साहब में मत्था टेका और झाड़ू लगाई साथ ही गुरुद्वारे आये लोगों के जूते साफ कर सेवा की। हरीश रावत ने साफ कहा कि मैंने प्रायश्चित स्वरूप कुछ देर झाड़ू लगाकर सफाई की है , सिख धर्म और उसकी महान परंपराओं के प्रति हमेशा समर्पित भाव और आदर भाव रखता रहा हूँ। मैं पुनः आदर सूचक शब्द समझकर उपयोग किये गये अपने शब्द के लिये मैं सबसे क्षमा चाहता हूँ।

About Author

           

You may have missed