बड़ी दुःखद खबर: उत्‍तराखंड की नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश का निधन, कांग्रेस की कद्दावर नेता के निधन पर कई नेताओं ने जताया शोक

1178 views          

देहरादून: उत्‍तराखंड की नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस की वरिष्‍ठ नेता इंदिरा हृदयेश का रविवार को निधन हो गया। वह उत्तराखंड सदन नई दिल्ली में ठहरी हुईं थीं। बीते रोज प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव के साथ बैठक में शिरकत की थी जिसके बाद उनकी अचानक तबीयत बिगड़ गई। आज सुबह उन्हें गंभीर हालत में दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। कांग्रेस की कद्दावर नेता की मौत से पार्टी को बड़ा झटका लगा है। बता दें कि वह दिल्ली में कांग्रेस संगठन की बैठक में शामिल होने गईं थीं।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह भी उत्तराखंड सदन में मौजूद थे, उन्‍होंने कहा कि उत्तराखंड ऒर कांग्रेस को गहरा आघात पहुंचा है। पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ट्वीट किया कि कांग्रेस की वरिष्‍ठ नेत्री इंदिरा हृदयेश के निधन का दुखद समाचार मिलकर अंत्‍यंत दुखी है। उन्‍होंने अपने राजनीतिक जीवन में कई पदों को सुशोभित किया। पूर्व मुख्‍यमंत्री विजय बहुगुणा, वन मंत्री हरक सिंह रावत समेत कई मंत्री व नेताओं ने उनके निधन पर शोक जताया है।

कुछ समय पहले ही नेता प्रतिपक्ष कोरोना से उभरी थीं और उनकी हार्ट संबंधी सर्जरी भी हुई थी। नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह्रदयेश की उम्र 80 साल की थी। इंदिरा हृदयेश का जन्म 7 अप्रैल 1941 में हुआ था। वह उत्तराखंड की राजनीति में आयरन लेडी के नाम से प्रसिद्ध थीं। उन्होंने अपने राजनीतिक सफर की शुरूआत उत्तर प्रदेश से की और नेता प्रतिपक्ष के रूप में समाप्त की।

यूपी से अलग होकर बने उत्तराखंड में पिछले दो दशकों से कांग्रेस पार्टी का प्रमुख चेहरा रहीं, डॉ. इंदिरा हृदयेश राज्य में विपक्ष की कद्दावर नेता थीं। धीर-गंभीर अंदाज और राजनीतिक परिपक्वता की वजह से विपक्षी नेता भी उनका सम्मान करते थे।

वर्ष विवरण

  • 1974-1980- उत्तर प्रदेश विधान परिषद के लिए चुनी गई (पहला कार्यकाल)
  • 1986-1992- उत्तर प्रदेश विधान परिषद के लिए चुनी गई (दूसरा कार्यकाल)
  • 1992-1998- उत्तर प्रदेश विधान परिषद के लिए चुनी गई (तीसरा कार्यकाल)
  • 1998-2000- उत्तर प्रदेश विधान परिषद के लिए चुनी गई (चौथा कार्यकाल)
  • 2000-2002- सदस्य अंतरिम उत्तराखंड विधान सभा विपक्ष के नेता उत्तराखंड विधान सभा
  • 2002-2007- उत्तराखंड विधान सभा के लिए चुनी गई (पहला कार्यकाल) लोक निर्माण, संसदीय मामलों के कैबिनेट मंत्री, राज्य संपत्ति, सूचना, विज्ञान और प्रौद्योगिकी
  • 2012-2017- उत्तराखंड विधान सभा के लिए निर्वाचित (दूसरा कार्यकाल) वित्त, वाणिज्यिक कर, टिकट और पंजीकरण के लिए कैबिनेट मंत्री, मनोरंजन कर, संसदीय कार्य, विधायी कार्य, चुनाव, जनगणना, भाषा, प्रोटोकॉल
  • 2017- अब तक उत्तराखंड विधान सभा के लिए निर्वाचित (तीसरा कार्यकाल) विपक्ष के नेता उत्तराखंड विधान सभा।

About Author

           

You may have missed